top of page
Search

मेमोरी कार्ड और हार्ड ड्राइव में भूल-वश होने वाले डाटा लॉस की समस्या का हल -



जैसा की आप सभी लोगों को मालूम है कि कंप्यूटर सिस्टम पर किसी भी ड्राइव को फॉर्मेट करते समय सबसे ज्यादा डाटा लॉस की सम्भावना होती है | आज हमारे हार्ड ड्राइव और मेमोरी कार्ड की संख्या बहुत बढ़ गई है क्योकि हमें बड़ी मात्रा में डाटा को स्टोर करने के लिए काफी संख्या में हार्ड ड्राइव, पेन ड्राइव और मेमोरी कार्ड का इस्तेमाल करते हैं |


सामान्यता आजकल के कंप्यूटर सिस्टम में एक से ज्यादा हार्ड ड्राइव इंस्टॉल होती हैं और कई बार हम अपनी हार्ड ड्राइव या मेमोरी कार्ड की ड्राइव को पहचान नहीं कर पाते हैं जिसकी वजह से कई बार हम मेमोरी कार्ड या हार्ड ड्राइव फॉर्मेट करते समय अपनी सिस्टम की दूसरी हार्ड ड्राइव और एक्सटर्नल हार्ड ड्राइव को धोखे से फॉर्मेट कर लेते हैं


मेमोरी कार्ड और हार्ड ड्राइव के ड्राइव लेटर के नेम को यूनिक नेम या नंबर अलाट करना


इस प्रकार की घटना सामान्य हो गई है, लेकिन डाटा प्रोफेशनल (जिनका डाटा इम्पोरेन्ट है ) के लिए यह बहुत ही बड़ी समस्या है क्योंकि अब SMR हार्ड ड्राइव को फॉर्मेट करने के बाद उनसे डाटा रिकवरी की संभावना नहीं है, इसलिए हमें इस प्रकार की समस्या से बचना चाहिए और इसका एक बचाव है कि हम अपने मेमोरी कार्ड और हार्ड ड्राइव, पेन ड्राइव के ड्राइव लेटर के नेम को यूनिक नेम या नंबर अलाट करके रखें और इनको फॉर्मेट करते समय हम उसी नंबर की मेमोरी कार्ड या हार्ड ड्राइव को फॉर्मेट करें ना कि अन्य किसी दूसरी डिवाइस ड्राइव को | जिससे हमें ड्राइव फॉर्मेट करते समय उनकी आसानी से पहचान कर सके और इस प्रकार की समस्या से बच सके |






59 views0 comments

Comments


bottom of page